राष्ट्रसंत शिवात्मानंद सरस्वती की नेपाल के मन्त्री जगत बहादुर विश्वकर्मा से मुलाकात, भारत—नेपाल विश्वकर्मा मैत्री पर चर्चा

वेद-वेदांताचार्य परमहंस परिवाजकचार्य राष्ट्रसंत स्वामी शिवात्मानंद सरस्वती जी, दांडी स्वामी, श्री ज्ञानानंद आश्रम बेंगलुरू केवल भारतवर्ष में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में विश्वकर्मा समाज को जागृत व एकजुट करने के लिए सालों से प्रयासरत हैं। पिछले कई सालों से नवंबर महीने में एकजुटता के प्रयासों को विश्व में आगे बढ़ाते हुए स्वामी शिवात्मानंद सरस्वती जी प्रचार व प्रसार के लिये हर वर्ष 15 दिन के कार्यक्रम पर फ्रांस में वेदों पर उपदेश व शिक्षा देने जा रहे हैं। स्वामी जी के कर कमलों से व विश्वकर्मा समाज को विश्व स्तर पर पहचान व वेदों का ज्ञान अर्जित कराने के लिए अखिल भारतीय विश्वकर्मा साधु संत समावेश का प्रथम कार्यक्रम विश्व ख्याति प्राप्त सन्त श्री श्री रविशंकर जी के द आर्ट ऑफ लिविंग आश्रम, बेंगलुरू में सम्पन्न हो चुका है। अखिल भारतीय विश्वकर्मा साधु संत समावेश का द्वितीय कार्यक्रम श्री विश्वकर्मा मंदिर डाकोर, गुजराज में और तृतीय आगामी माह फरवरी वर्ष 2020 में उत्तर भारत के हरिद्वार या दिल्ली में विश्व स्तर पर आयोजित किया जाएगा।


निर्धारित उद्देश्यों की पूर्ति के लिए स्वामी जी ने अपने चतुर्मास के सम्पन से प्रथम तिथि 12 सितम्बर 2019 को जगत बहादुर सुनार (विश्वकर्मा), कैबिनेट मिनिस्टर फॉर यूथ एंड स्पोर्ट्स गवर्नमेंट ऑफ नेपाल से काठमांडू में उनके निमंत्रण पर मुलाकात की। इस अभूतपूर्व बैठक में भारत व नेपाल के विश्वकर्मा समाज पर गंभीर चर्चा हुई। मन्त्री जगत बहादुर विश्वकर्मा ने स्वामी जी का भव्य रूप से सम्मान व स्वागत किया। मन्त्री जी के अनुरोध पर स्वामी जी ने आश्वासन दिया कि नेपाल में भी वेदों के पठन—पाठन को पाठ्यक्रम चलाकर प्रचार—प्रसार करेंगे। नेपाली मन्त्री जगत बहादुर विश्वकर्मा ने कहा कि नेपाल में रह रहे विश्वकर्मा समाज को उन्नत व प्रगतिशील बनाने पर पूर्ण सहयोग देंगे।


भारत में विश्वकर्मा समाज द्वारा मनाये जाने वाले कार्यक्रमों में विशेष अतिथि के रूप में सम्मिलित होने के अनुरोध को नेपाली मन्त्री जगत बहादुर विश्वकर्मा ने सहृदय स्वीकार करते हुए सम्मिलित होने का पूर्ण आश्वासन दिया। स्वामी जी ने श्री विश्वकर्मा जी के अनुरोध पर नेपाल में विश्वकर्मा समाज के कार्यक्रमों को भव्य रूप से मनाने के मार्गदर्शन व पूर्ण सहयोग देना स्वीकार किया।


रिपोर्ट- दिनेश कुमार वत्स विश्वकर्मा
सेवादार व राष्ट्रीय अध्यक्ष
अखिल भारतीय विश्वकर्मा
टांक ब्राह्मण महासभा (पं0) दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *