वरिष्ठ साहित्यकार आचार्य निशांत केतु को ‘श्रेष्ठ हिंदी साहित्य लेखन सम्मान’

गुरुग्राम (दिनेश गौड़)। नारायणी साहित्य अकादमी के द्वारा शब्दाश्रम गुरुग्राम, हरियाणा में वरिष्ठ साहित्यकार आचार्य निशांतकेतु को ‘श्रेष्ठ हिंदी साहित्य लेखन सम्मान’ प्रदान किया गया। 23 मार्च को ही आचार्य निशांत केतु का जन्म हुआ था। जन्म के समय उनका नाम चन्द्र किशोर पाण्डेय रखा गया। बाद में चलकर वह अपनी विद्वता से आचार्य निशांत केतु नाम से साहित्य जगत में प्रसिद्ध हुये। वह दर्जनों पुस्तकों के रचयिता होने के साथ ही अनेक भाषाओं के ज्ञाता भी हैं।

निशांत केतु के जन्मोत्सव के पावन पर्व को, साहित्यिक त्यौहार के रुप में मान्यता देते हुए ‘नारायणी साहित्य अकादमी’ द्वारा अपने संस्थापक एवं संरक्षक प्रोफेसर नामवर सिंह की स्मृति में सम्मानित एवं पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर पधारी मुख्य अतिथि प्रज्ञा पीठाधीश्वर साध्वी विभानंदगिरि जी महाराज ने आचार्य निशांत केतु को अपने हस्त कमलों द्वारा मंत्रोचारण के साथ पुष्प हार पहनाया और शाल ओढ़ाकर प्रतीक चिन्ह देते हुए सम्मानित किया। साथ में अकादमी की राष्ट्रीय अध्यक्षा पुष्पा सिंह विसेन ने एक लाख की पुरस्कार धनराशि का चेक सौंपा। यह क्षण बहुत ही अद्भुत रहा। आयोजन में अनेक गणमान्य नागरिक, वरिष्ठ पत्रकार दिनेश गौड़, साहित्यकार जगदीश मीणा, युवा कवि प्रदीप सुमनाक्षर एवं परिवार के सभी सदस्य उपस्थित रहे। यह अद्भुत कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *