दि अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा के तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का हुआ शुभारम्भ

कुशीनगर। भारत-नेपाल की सीमा से लगा उत्तर प्रदेश का कुशीनगर जनपद अंतरराष्ट्रीय पर्यटन के रूप में जाना जाता है। जिले के तराई क्षेत्र में स्थित खड्डा में दि अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा का तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित किया गया है। 14 नवम्बर से लेकर 16 नवम्बर तक चलने वाले इस अधिवेशन में देश के सभी प्रदेशों से महासभा के प्रमुख लोग भाग ले रहे हैं।

अधिवेशन के दूसरे दिन “विश्वकर्मा इंजीनियरिंग कॉलेज” की आधारशिला रखना प्रस्तावित है। अधिवेशन शुरू होने से पूर्व भगवान विश्वकर्मा की पूजा-अर्चना की गई। भगवान विश्वकर्मा की शोभायात्रा पूरे नगर में भ्रमण कराई गई तत्पश्चात भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति अधिवेशन प्रांगण में विधि-विधान के साथ स्थापित की गई।

राष्ट्रीय अधिवेशन के पहले दिन अतिथियों का परिचय और स्वागत हुआ। अयोजकगणों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष छेदीलाल विश्वकर्मा, कार्यकारी अध्यक्ष पैलेशभाई सिद्धपुरा, उपाध्यक्ष रामप्यारे विश्वकर्मा, एडवाइजरी बोर्ड के चैयरमैन डॉ0 गिरनाध शर्मा, उपाध्यक्ष एम0एम0 शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष रमाकान्त विश्वकर्मा, राष्ट्रीय महामन्त्री दिनेशभाई शर्मा, साध्वी सुरिन्द्रा देवी, समाजवादी लोहिया वाहिनी के राष्ट्रीय सचिव चन्दन विश्वकर्मा, झारखंड प्रदेश अध्यक्ष डॉ0 दिलीप सोनी, महामन्त्री विक्रांत विश्वकर्मा, मनोरंजन महाराणा, सोनू विश्वकर्मा जिला पंचायत सदस्य प्रतापगढ़ तथा मीडिया के लोगों का स्वागत किया।

कार्यक्रम के अयोजकगण भुवनेश विश्वकर्मा, सुदीप विश्वकर्मा, मनोज शर्मा, शिवकुमार विश्वकर्मा, मनोज विश्वकर्मा व पूरी कमेटी की तरफ से अतिथि सत्कार, प्रवास व भोजन-जलपान की समुचित व्यवस्था की गई है। सभी लोग पूरी दृढ़ता से लगे रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *