रेलवे के डॉक्टर सूर्यप्रकाश शर्मा ने बनाई संक्रमण रहित ओपीडी, हो रही सराहना

दिल्ली। उत्तर रेलवे नई दिल्ली द्वारा दिल्ली मण्डल रेलवे अस्पताल के ओपीडी में ऐसी प्रणाली विकसित की गई है जिससे संक्रमण फैलने से रोका जा सकता है। इस प्रणाली में कोई भी मरीज ड्यूटीरत डॉक्टर के सम्पर्क में प्रत्यक्ष या सीधे नहीं आता है। इस प्रणाली को विकसित किया है डॉ0 सूर्यप्रकाश शर्मा (विश्वकर्मा) ने। डॉ0 सूर्यप्रकाश शर्मा द्वारा तैयार किये गये ओपीडी मॉडल की खूब सराहना भी हो रही है। मरीज के पंजीकरण, डॉक्टर को दिखाने से लेकर दवा वितरण काउण्टर तक इस प्रणाली को लागू किया गया है। काउण्टर पर बैठा स्टाफ पारदर्शी शीशे के अन्दर से ही सिर्फ हाथ बाहर कर मरीजों की सेवा कर रहा है। अस्पताल में कार्यरत सभी लोग हाथ में ग्लब्स का प्रयोग करते हैं। डॉ0 शर्मा द्वारा विकसित इस प्रणाली से डॉक्टर सहित अस्पताल के सभी कर्मचारी भी सुरक्षित रहेंगे।


बता दें कि डॉ0 सूर्यप्रकाश शर्मा मूल रूप से बिहार प्रदेश के सिवान जिला के निवासी हैं। इनकी पढ़ाई उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हुई। बाद में इनका परिवार गोरखपुर में ही रहने लगा। डॉक्टर की पढ़ाई पूरी करने के बाद इनकी नियुक्ति रेलवे में हुई। वर्तमान में इनकी तैनाती दिल्ली में है। कोरोना के संक्रमण से जूझ रहे देशवासियों की सुरक्षा में डॉक्टरों की सबसे बड़ी भूमिका है। कोरोना मरीजों का इलाज करते-करते डॉक्टर भी संक्रमित हो जा रहे हैं। कई डॉक्टर तो अपनी जान भी गंवा चुके हैं। इन विषम परिस्थितियों और बचाव के लिये प्रयासरत डॉ0 सूर्यप्रकाश शर्मा ने ओपीडी की नई प्रणाली विकसित की जिससे संक्रमण का खतरा बहुत कम हो जायेगा। उम्मीद है कि इस प्रणाली को सभी अस्पताल अपनी ओपीडी में लागू करेंगे। रेल मंत्रालय ने अपने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर इस प्रणाली का एक वीडियो भी पोस्ट किया है, जिसे आप नीचे दिये गये लिंक को क्लिक कर देख सकते हैं।

2 thoughts on “रेलवे के डॉक्टर सूर्यप्रकाश शर्मा ने बनाई संक्रमण रहित ओपीडी, हो रही सराहना

    1. भगवान विश्वकर्मा हमेशा आपको तरक्की दें, मैं भी सीवान जिले बगौरा के पास से हूं, ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed