क्रिकेटर रोहित शर्मा की जगह लेंगे प्रियांक पांचाल, बीसीसीआई ने की घोषणा

मुम्बई। साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिये सलामी बल्लेबाज के तौर पर विश्वकर्मा वंशीय प्रियांक पांचाल को भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल किया गया है। प्रियांक टीम में उप कप्तान रोहित शर्मा की जगह लेंगे। हैमस्ट्रिंग इंजरी के चलते रोहित शर्मा सीरीज से बाहर हो गए हैं। प्रियांक ने कभी कल्पना भी नहीं की होगी कि उन्हें ऐसे सुखद आश्चर्य का सामना करना पड़ सकता है। भारतीय टीम में शामिल किये जाने की घोषणा के तीन दिन पहले ही प्रियांक साउथ अफ्रीका से भारत लौटे हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल किये जाने के बाद प्रियांक पांचाल ने बताया, “अभी तीन दिन पहले ही मैं दक्षिण अफ्रीका से स्वदेश लौटा था। मैंने ठीक से अनपैक भी नहीं किया था, और अब मैं खुद को मुंबई (टीम इंडिया बायो-बबल में शामिल होने के लिए) में उतरता हुआ पाता हूं। मैं पिछले कुछ सालों से गुजरात और इंडिया ए के लिए अच्छा कर रहा हूं और कई सालों से इस मौके का इंतजार कर रहा हूं, लेकिन मुझे इस मौके की उम्मीद नहीं थी। यह सुखद आश्चर्य है।” उन्होंने ये भी कहा, “जब मैं इतने रन बना रहा था और मौका नहीं मिल रहा था तो थोड़ा निराश महसूस करता था, जो कि स्वाभाविक है। हालांकि, मेरा व्यक्तित्व ऐसा है कि मैं हमेशा सोचता रहता था कि एक बल्लेबाज के रूप में अब मुझमें क्या कमी है? अगर मैं भारत के लिए खेलना चाहता हूं, तो मुझे और अधिक प्रभावशाली बनने के लिए क्या करना चाहिए? अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में किस तरह के खेल की आवश्यकता होती है? मुझे खुशी है कि मेरी सारी मेहनत और लगन आखिरकार रंग लाई है।”
31 साल के प्रियांक पांचाल चंद दिनों पहले भारत-ए टीम के साथ साउथ अफ्रीका में थे, ऐसे में उनका अनुभव भारतीय टीम के काम आ सकता है। 9 अप्रैल 1990 को अहमदाबाद में जन्मे प्रियांक पांचाल का टीम इंडिया तक का सफर आसान नहीं रहा है। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 100 मुकाबले खेलने के बाद उन्हें यह कामयाबी हासिल हुई है। इस साल जनवरी में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में प्रियांक को स्टैंडबाय के तौर पर रखा गया था।

2008 में किया फर्स्ट क्लास डेब्यू-
प्रियांक पांचाल ने 27 फरवरी 2008 को गुजरात के लिए खेलते हुए विजय हजारे ट्रॉफी में महाराष्ट्र के खिलाफ अपना लिस्ट-ए पदार्पण किया। डेब्यू पारी में ही प्रियांक पांचाल ने 115 गेंदों पर 17 चौकों और 1 छक्के की मदद से 123 रन बना दिए। उसी साल नवंबर में सौराष्ट्र के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मुकाबले के जरिए उन्होंने प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया, जिसमें गुजरात ने एक पारी और 227 रनों के अंतर से जीत हासिल की थी। प्रियांक पांचाल ने साल 2014 में झारखंड के खिलाफ मुकाबले से अपना टी20 डेब्यू किया।

2016-17 में किया धमाका-
नवंबर 2016 में प्रियांक पांचाल गुजरात के लिए तिहरा शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी बने। फिर अगले महीने वह गुजरात के लिए रणजी ट्रॉफी के एक सत्र में 1,000 रन बनाने वाले भी पहले खिलाड़ी बने। 2016-17 के उस रणजी सीजन में प्रियांक सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 10 मैचों की 17 पारियों में कुल 1310 रन बनाए थे। इसके चलते उनकी टीम ने पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब जीता।

शानदार रहा है घरेलू करियर-
दाएं हाथ के बल्लेबाज प्रियांक पांचाल ने 100 फर्स्ट क्लास मैचों में 45.52 की औसत से 7011 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 24 शतक और 25 अर्धशतक निकले। 75 फर्स्ट क्लास मैचों में प्रियांक ने 40.19 की औसत से 2854 रन बनाए हैं, जिसमें पांच शतक और 18 अर्धशतक शामिल रहे। प्रियांक ने 50 टी20 मुकाबलों में भी भाग लिया है, जिसमें उन्होंने 29.48 की एवरेज से 1327 रन बनाए।

प्रियांक पांचाल को सफलता के लिये “विश्वकर्मा किरण” पत्रिका परिवार की तरफ से बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

1 thought on “क्रिकेटर रोहित शर्मा की जगह लेंगे प्रियांक पांचाल, बीसीसीआई ने की घोषणा

  1. The collection of contents in this Patrika are fruitful. For us.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *