ऊना के विपिन धीमान ने महज डेढ़ लाख में तैयार कर दिया सोलर ऑटो

ऊना। कहते हैं कि अगर इंसान में कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो कोई भी राह मुश्किल नहीं होती है। इन्हीं पंक्तियों को सच कर दिखाया है हिमांचल प्रदेश के ऊना जिला के गांव बसोली के रहने वाले विपिन धीमान ने। विपिन धीमान के पिता ऊना ( Una) में ऑटो स्पेयर पार्ट ( Auto spare part) का व्यवसाय करते हैं। अपने पिता के व्यवसाय के दौरान ही गाड़ियों में रूचि होने के चलते ही विपन ने ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग ( Automobile engineering) की। इस समय विपन आईआईटी मंडी में शोधकर्ता ( Researcher in IIT Mandi) हैं।
विपिन ने ऑटो व्यवसाय को सस्ता और प्रदूषण रहित बनाने के उद्देश्य से आईआईटी मंडी के समक्ष सौर ऊर्जा से चलने वाले ऑटो का प्रस्ताव रखा जिसे आईआईटी मंडी ने स्वीकार किया और सोलर ऑटो बनाने के लिए विपिन को आर्थिक मदद दी। वहीं प्रदेश सरकार द्वारा भी विपन को एक साल के लिए हर माह सस्टेनस एलाउंस दिया जा रहा है। इस ऑटो पर 800 वॉट का सोलर पैनल स्थापित किया गया है। सौर ऊर्जा (Solar energy) से पूरा चार्ज होने के बाद यह ऑटो 200 किलोमीटर का सफर तय कर सकती है। इस ऑटो की अधिकतम स्पीड 45 किलोमीटर प्रति घण्टा है। एक खासियत और कि यदि ऑटो को समय पर सौर ऊर्जा न मिले तो इसे बिजली से भी चार्ज किया जा सकता है। यह ऑटो जहां ध्वनि रहित है, वहीं इससे प्रदूषण भी नहीं फैलता है।
विपन धीमान ने बताया कि इस ऑटो को बनाने के लिए उन्हें दो साल का समय लगा है। आगे बताया कि अभी तक इस ऑटो को बनाने में डेढ़ लाख का खर्च आ चुका है और 2 से ढ़ाई लाख के बीच यह ऑटो पूरी तरह से बनकर तैयार हो जायेगा।
ऑटों में न साउंड है और न ही न प्रदूषण-
विपिन ने बताया कि आईआईटी मंडी कैटालिस्ट द्वारा इस ऑटो को बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपये मिले हैं। वहीं प्रदेश सरकार द्वारा भी उन्हें एक साल के लिए 25 हजार रुपये प्रति माह सस्टेनस एलाउंस दिया जा रहा है। विपिन की मानें तो डीजल ऑटो बंद होने के बाद यह ऑटो मैदानी इलाकों के लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। विपिन ने अपनी कंपनी भी रजिस्टर्ड करवा ली है और जल्द ही ऊना में सोलर ऑटो बनाने का उद्योग स्थापित किया जायेगा जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होगा। वहीं इस ऑटो की सवारी करने वाले भी ऑटो को देखकर खासे उत्साहित हैं। स्थानीय लोगों की माने तो इस ऑटो में कोई साउंड नहीं है और न ही इससे प्रदूषण होगा। स्थानीय लोगों की माने तो आने वाले समय में यह एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। -साभार

2 thoughts on “ऊना के विपिन धीमान ने महज डेढ़ लाख में तैयार कर दिया सोलर ऑटो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *