अंग्रेजी के आदर्श शिक्षक थे शिक्षाविद् ठाकुर प्रसाद मिस्त्री “सर्वेश”

भागलपुर। शिक्षाविद् ठाकुर प्रसाद मिस्त्री “सर्वेश” अंग्रेजी विषय के आदर्श शिक्षक थे। आज उनकी 81वीं जयंती है। उनका जन्म 3 जनवरी 1940 को भागलपुर जिला के खरीक प्रखंड के पूर्वीघारारी में एक गरीब परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम भायलाल मिस्त्री और माता का नाम मैना देवी था। ठाकुर प्रसाद मिस्त्री 1961 से 2000 तक उच्च विद्यालय में अंग्रेजी अध्यापक के पद पर सेवा दिए। अवकाश प्राप्त होने के पश्चात अपने निज निवास पर मुफ्त में शिक्षा दान करते आ रहे थे और अध्यात्म से जुड़े पुस्तकों का अध्ययन करते थे। अवकाश प्राप्त होने के बाद दिन-प्रतिदिन गंगा स्नान करने के लिए जाते थे। इनका निधन अपने निवास स्थान खरीक पुर्वीघारारी में 20 जनवरी 2020 को शाम में हो गई।
स्व0 मिस्त्री के दो पुत्र और चार पुत्री हैं। प्रथम पुत्र अनिल कुमार शर्मा बनारसी लाल सर्राफ वाणिज्य महाविद्यालय नवगछिया में वनस्पति विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष पद पर हैं। दूसरे पुत्र उमाशंकर शर्मा बीएन महाविद्यालय बरारी कटिहार में वनस्पति विज्ञान विभाग में लैब टेक्नीशियन पद पर कार्यरत हैं। दो पुत्री विमला कुमारी, किशोरी भारती सेविका पद पर, मधुलता शर्मा लिपिक उच्च न्यायालय चंडीगढ़ और राधा रानी शिक्षिका पद पर कार्यरत हैं। चार पोते-पोती भी हैं जिसमें सबसे बड़े पोते सत्यनारायण तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय भागलपुर के राजनीतिक विज्ञान विभाग में अध्ययनरत हैं। दूसरे पोते श्रीराम 10वीं के छात्र, पोती दुर्गा शर्मा वनस्पति से स्नातक कर रही है तो दूसरी पोती आर्या भारती वर्ग सात की छात्रा है।
बड़े पोते सत्यनारायण का कहना है कि “दादाजी से हमें बहुत कुछ सीखने को मिला। उनके निधन से हमारे लिए एक मार्गदर्शन देने वाले की कमी हुई है जिसकी भरपाई करना संभव नहीं है। हम सभी दादाजी के आदर्शों पर चलकर आगे बढ़ने का प्रयास करेंगे।”
आदर्श शिक्षक शिक्षाविद् ठाकुर प्रसाद मिस्त्री “सर्वेश” के निधन होने पर कुलपति, सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, विधान पार्षद , पूर्व विधान पार्षद, सिनेट सदस्य, सिंडिकेट सदस्य, कई शिक्षाविदों, नेताओं-कार्यकर्ताओं, विभिन्न संगठनों के लोगों और विद्यार्थी परिषद् के सदस्यों ने शोक प्रकट किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *