सुनवाई के लिए कोर्ट जा रही गैंगरेप पीड़िता को पेट्रोल डालकर जिन्दा जलाया

लखनऊ। हैदराबाद की डॉ0 प्रियंका रेड्डी को रेप के बाद जलाकर मारने का मामला अभी थमा नहीं था कि यूपी के उन्नाव में भी वैसी ही घटना हो गई। यह अलग बात है कि समाचार लिखे जाने तक हैदराबाद के आरोपी पुलिस इनकाउंटर में मार गिराये जा चुके हैं। उन्नाव में विश्वकर्मा परिवार की एक रेप पीड़िता को पेट्रोल डालकर जिन्दा जलाकर मारने की कोशिश की गई है। लड़की को गंभीर हालत में लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेन्टर रैफर किया गया जहां से उसे एयरएम्बुलेंस द्वारा दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजा गया है। लड़की उन्नाव की रहने वाली है, जिसके साथ रायबरेली में रेप हुआ था, वहीं पर केस चल रहा है। 5 दिसम्बर को सुबह जब वह केस की सुनवाई के लिए रायबरेली के लिए घर से जा रही थी तो 5 आरोपियों ने गांव के बाहर खेतों में युवती को जलाने की कोशिश की।
युवती 90 फीसदी जल चुकी है और उसकी स्थिति गंभीर बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार रेप पीड़िता के साथ इसी साल मार्च में रेप की वारदात को अंजाम दिया गया था। जलाने वालों में रेप के दो आरोपी भी शामिल हैं। युवती को जिन्दा जलाने की सूचना पर क्षेत्र में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती को गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा जहां से उसे लखनऊ रेफर किया गया।
मार्च में महिला ने उसके गांव के रहने वाले दो लोगों के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज करवाई थी। महिला ने मामले दर्ज करवाते हुए आरोप लगाया था कि उसके साथ रेप करके वीडियो बनाया गया है। स्थानीय कोर्ट की दखल के बाद मामला रायबरेली जिले में दर्ज किया गया था।
पूर्वमंत्री रामआसरे विश्वकर्मा ने जताया आक्रोश-
समाजवादी पार्टी के नेता व पूर्वमंत्री रामआसरे विश्वकर्मा ने घटना पर दुःख व्यक्त करते हुए रोष जताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में कोई भी सुरक्षित नहीं है। बहन-बेटियों की इज्जत सरेआम नीलाम की जा रही है। सरकार में बैठे लोग आरोपियों को संरक्षण दे रहे हैं।

4 thoughts on “सुनवाई के लिए कोर्ट जा रही गैंगरेप पीड़िता को पेट्रोल डालकर जिन्दा जलाया

  1. सामाजिक एकता की बहुत अच्छी जानकारी दे रहे है और समाज को जोड़ने का बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे है विश्वकर्मा किरण हिंदी साप्ताहिक पत्रिका को बहुत बहुत बधाई

  2. बहुत ही सराहनीय कदम है. पर हमारे समाज में गरीब लोग सदस्यता सुलक इतना जमा नहीं कर सकते है !

  3. आपकी हिंदी साप्ताहिक विश्वकर्मा किरण । विश्वकर्मा समाज को जागरूक करने के लिए बहुत अच्छा क़दम साबित हो रहा है।और हर जगह की खबरें पूर्ण रूप से मिल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *