अभावि शिल्पकार महासभा ने कुशीनगर में आयोजित किया विशाल विश्वकर्मा सम्मेलन

कुशीनगर। अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा द्वारा आयोजित विश्वकर्मा महासम्मेलन शारदा महाजनी विद्यालय तमकुही रोड सेवरही में सम्पन्न हुआ। सम्मेलन के मुख्य अतिथि महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्वमंत्री रामआसरे विश्वकर्मा रहे। अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष अच्छेलाल विश्वकर्मा तथा संचालन मनोज शर्मा ने किया। विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय सचिव विश्वनाथ विश्वकर्मा डा0 एस0एन0 शर्मा तथा प्रदेश सचिव सुनील शर्मा थे।

पूर्वमंत्री रामआसरे विश्वकर्मा ने कहा कि यह सम्मेलन आज तक का सबसे बड़ा सम्मेलन है। हम समाज को जोड़ने और मजबूत करने आये हैं। जब तक मनु, मय, त्वष्टा, दैवज्ञ और शिल्पी एकजुट नहीं होंगे तब तक विश्वकर्मा समाज सामाजिक और राजनैतिक रूप से आगे नहीं बढ़ सकता। केन्द्र और प्रदेश सरकार हमारी उपेक्षा कर रही है। सरकार में मन्त्री रहते हमने सपा सरकार में विश्वकर्मा पूजा का सार्वजनिक अवकाश का आदेश, विश्वकर्मा समाज के पट्टे का आदेश, विश्वकर्मा समाज के लिये आईटीआई का प्रमाण पत्र का आदेश कराया, सब भाजपा सरकार ने निरस्त कर दिया। विश्वकर्मा समाज का सम्मान और पहचान यह सरकार मिटा रही है।

विश्वकर्मा समाज पर लगातार हो रहे उत्पीडन और अत्याचार पर सरकार मौन है। महराजगंज, बहराइच, बागपत, प्रतापगढ़, श्रावस्ती की घटनाओं मे सरकार ने विश्वकर्मा समाज की कोई मदद नहीं की। हम लगातार दौड़ते रहे लेकिन सरकार ने कोई सुनवाई नहीं की। अपराधी खुलेआम घूम रहे है। आज पूरा विश्वकर्मा समाज दहशत में हैं। विश्वकर्मा समाज पर उत्पीड़न और अत्याचार अब बर्दाश्त नहीं करेंगे और सड़क पर समाज की लडाई लड़ेंगे।

कुशीनगर में विश्वकर्मा समाज से अपने सम्बन्धो का वास्ता देकर उन्होंने कहा कि सरकार मे न रहते हुए भी हम हमेशा आपकी मदद करते रहेंगे। जब तक विश्वकर्मा समाज की सरकार में भागीदारी नहीं होगी तब तक समाज अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो सकता। सपा ने विश्वकर्मा समाज को भागीदारी दी, विधायक, मन्त्री बनाया लेकिन भाजपा, कांग्रेस, बसपा ने समाज को आश्वासन के सिवा कुछ नहीं दिया।

भाजपा सरकार मे पिछडे वर्गो के आरक्षण को समाप्त करने की साजिश कर रही है। अब समाज के लड़कों को नौकरी रोजगार नहीं मिल रहा है। अगर आरक्षण समाप्त हो गया तो पिछडे वर्ग के किसी को नौकरी नहीं मिलने वाली है। उन्होंने मांग की, विश्वकर्मा सहित सभी पिछड़ी जातियों को जनसंख्या के आधार पर आरक्षण सरकारी नौकरी, रोजगार, राजनीति व सरकार में भागीदारी देने पर ही समाज का भला होगा। अब विश्वकर्मा समाज को अपना अधिकार लेने के लिये सडक पर आना होगा। श्री विश्वकर्मा ने भरोसा दिलाया कि हम आपके सुख दुख में हमेशा साथ रहेगे।

कार्यक्रम के आयोजक राजेश्वर विश्वकर्मा, विश्वकर्मा शर्मा, राजेश शर्मा, सुरेंद्र शर्मा, सरल शर्मा, हरिनाथ शर्मा, गिरजा शंंकर शर्मा ने शाल और माला से पूर्वमन्त्री का स्वागत किया। सम्मेलन में महासभा के राष्ट्रीय सचिव विश्वनाथ विश्वकर्मा, जिलाध्यक्ष कुशीनगर रामबदन विश्वकर्मा, जिलाध्यक्ष गोरखपुर यशपाल विश्वकर्मा, विश्वकर्मा ब्रिगेड प्रदेश सचिव सुनील विश्वकर्मा, ब्रिगेड के देवरिया जिलाध्यक्ष नीरज विश्वकर्मा, जयश्री विश्वकर्मा, श्रीनिवास विश्वकर्मा, चन्द्रभान विश्वकर्मा, महिला सभा जिलाध्यक्ष श्रीमती उमा विश्वकर्मा, डा0 एस0एन0 विश्वकर्मा, जिलाध्यक्ष महराजगंज कैलाश विश्वकर्मा, जिला प्रभारी सिंहबली विश्वकर्मा, विकास विश्वकर्मा, अनूप सोनी, गिरजा शंकर विश्वकर्मा, राम मनोहर विश्वकर्मा, गायक कलाकार सलोनी विश्वकर्मा सहित बड़ी संख्या में नेतागण व समाजजन उपस्थित थे।

-शिवप्रकाश विश्वकर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *