प्रभु श्रीराम मन्दिर निर्माण में विश्वकर्मा वंशजो का सहयोग होना चाहिए- भगवान चैतन्य बापू

उज्जैन (भारत रेघाटे ताम्रकार)। विश्वकर्मा वंशजो के ज्ञानी, विद्वान, पंडित, आचार्यगण तथा आर्किटेक्चर का प्रभु श्रीरामलला मन्दिर निर्माण में सहयोग देने के लिये प्रशासन को ध्यान देना चाहिये। यह बात महाकाल की नगरी उज्जैन से विश्वकर्मा समाज के तपस्वी तथा अभ्यासक भगवान चैतन्य बापू ने कहा है। प्रभु श्रीरामलला मन्दिर निर्माण के बारे मे भगवान चैतन्य बापू ने अपने मन की आशा को प्रगट करते हुये कहा कि अनेक वर्षों के प्रयास के बाद अवध में श्रीरामलला के मन्दिर का निर्माण प्रारम्भ हुआ है।

भगवान चैतन्य बापू ने देशभर के विश्वकर्मा वंशियों की ओर से श्रीरामलला मन्दिर निर्माण ट्रस्ट से आशा व्यक्त की है कि विश्वकर्मा समाज के वरिष्ठ सन्तों के मार्गदर्शन में मन्दिर परिसर में भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति स्थापित करके सर्वप्रथम समस्त सृष्टि के एवं निर्माण के देवता को आसन अवश्य प्रदान करें। ताकि श्रीरामलला का मन्दिर निर्माण निर्विघ्न सम्पन्न हो। भगवान विश्वकर्मा को प्रणाम कर, विज्ञान को साथ जोड़कर, श्री महकाल का असीम आशीर्वाद एवं भगवान विश्वकर्मा की कृपा सभी पर बनी रहे। ऐसा भगवान चैतन्य बापू ने कहा।

2 thoughts on “प्रभु श्रीराम मन्दिर निर्माण में विश्वकर्मा वंशजो का सहयोग होना चाहिए- भगवान चैतन्य बापू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *