अनूपपुर की रिया विश्वकर्मा ने परीक्षा पर चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री को दिखाई अपनी कलाकृति

अनूपपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में विद्यार्थियों से संवाद किया और परीक्षा तथा परीक्षा की तैयारी और समाज हित में विद्यार्थियों की भूमिका पर संबोधन दिल्ली में दिया गया। प्रधानमंत्री का संबोधन पूरे देश के विद्यार्थियों, शिक्षकों और अभिभावकों ने सुना। अनूपपुर जिले में भी स्कूलों और घरों पर लोगों ने परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम के दौरान देखा-सुना। अनूपपुर जिले के जमुना कॉलरी केंद्रीय विद्यालय की छात्रा रिया विश्वकर्मा का चयन प्रधानमंत्री की परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम में हुआ था जो दिल्ली में पहुंचकर कार्यक्रम में शामिल हुई तथा प्रधानमंत्री से सीधे मिलकर अपनी कलाकृतियों को दिखाया। प्रधानमंत्री ने भी छात्रा रिया की बनाई गई मूर्तियां और पेंटिंग्स की सराहना की तथा लकड़ी और म्ले से बनाई मूर्ति के बारे में पूछा। छात्रा रिया ने मूर्ति में कोरोना के दौरान मास्क लगाने और बिना मास्क लगाए व्यक्तियों को पहुंचे नुकसान के बारे में कई चेहरों के साथ दिखाया है।

छात्रा रिया पिता श्यामसुंदर विश्वकर्मा अनूपपुर जिले के कोयलांचल क्षेत्र के कोतमा तहसील अंतर्गत विकास नगर कोतमा में रहती हैं और केंद्रीय विद्यालय जमुना कॉलरी में अध्ययनरत हैं। रिया कक्षा 12वीं में विज्ञान कक्षा की छात्रा है। इनका चयन प्रधानमंत्री की परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम के लिए केंद्रीय स्कूल द्वारा नवंबर 2021 में आयोजित कला उत्सव प्रतियोगिता में बनाई मूर्ति के आधार पर हुआ था। छात्रा ने मूर्तिकला का मॉडल तैयार किया था जो रीजनल केंद्रीय विद्यालय में चयनित हुई थी। विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य अजमल खान ने बताया कि 26 मार्च को विद्यालय में यह जानकारी पहुंची थी कि छात्रा रिया विश्वकर्मा का चयन परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में हुआ है। रिया ने मूर्तिकला और पेंटिंग्स बनाने की कला विद्यालय के कला शिक्षक बृजेंद्र सिंह सेंगर से सीखी है। रिया प्रधानमंत्री से मिलकर बेहद खुश है और गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। रिया ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के साथ बातें करके काफी अच्छा लगा और उन्होंने बनाई मूर्ति के बारे में पूरी जानकारी ली तथा अन्य छात्रों की बनाई पेंटिंग्स के बारे में उनके द्वारा पूरी जानकारी प्रधानमंत्री जी को उपलब्ध कराई गई। उन्होंने इस कला को और बेहतर करने के लिए प्रेरित किया।

रिया के पिता श्याम सुंदर विश्वकर्मा कोतमा शहर में इलेक्ट्रीशियन हैं जो निजी पेशे से जुड़े हुए हैं। मां सरोज विश्वकर्मा गृहणी हैं। रिया ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय विद्यालय के कला शिक्षक बृजेंद्र सिंह सेंगर को दिया जिनके मार्गदर्शन में मूर्ति कला का मॉडल तैयार किया था। इसी शिक्षा के जरिए उनका चयन हुआ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीधे संवाद करने का अवसर प्राप्त हुआ, साथ ही अपनी कलाकृति दिखाने का। केंद्रीय विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य अजमल खान ने कहा कि यह हमारे विद्यालय के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। इस कार्यक्रम को बड़ी स्क्रीन के माध्यम से विद्यालय में प्रसारण हुआ जिसमें बड़ी संख्या में विद्यार्थी, शिक्षक और अभिभावक शामिल हुए। इस दौरान सभी ने प्रधानमंत्री के बताए परीक्षा के प्रबंधन एवं तनाव मुक्ति के तरीकों को सुनकर प्रेरणा ली।

4 thoughts on “अनूपपुर की रिया विश्वकर्मा ने परीक्षा पर चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री को दिखाई अपनी कलाकृति

  1. Congratulations Riya
    इसी प्रकार अपने माता पिता एवं विश्वकर्मा समाज का नाम रोशन करती रहो।

Leave a Reply to Rohit Kumar Vishwakarma Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *