चित्रकार राहुल लोहार ने फेस मास्क पर बनाये भारत के 44 डॉक्टर के चित्र

नीमच। देश और दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस से हर कोई भयभीत है। सभी लोग इस रोग से बचने के उपाय में लगे हैं। इसी को देखते हुए आज पूरी दुनिया के लोग फेस मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे की वो इस वायरस से बचे रहें या यूं कहें की आज फेस मास्क जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है। उसी को देखते हुए मध्यप्रदेश के नीमच जिले के जीरन तहसील क्षेत्र के कुचड़ोद ग्राम के राहुल कुमार लोहार ने अपनी मिनिएचर कला के जरिये एक अनोखे फेस मास्क का निर्माण किया है, जो एक कॉटन कैनवास के कपड़े पर बनाया है। यह पूर्ण रूप से राहुल की मौलिक कृति है, जिसको राहुल ने बहुत ही कम समय में बनाकर हमारे कोरोना योद्धाओं व डॉक्टरों को समर्पित किया है।

राहुल ने अपनी कल्पना शक्ति एवं कला के जरिए एक अनोखे एवं सबसे छोटे कलात्मक फेस मास्क का निर्माण बड़ी ही बारीकियों को ध्यान में रखते हुए किया है। इस मिनी फेस मास्क की साइज़ मात्र 5.8 इंच की है। राहुल ने इस 5.8 इंच के मिनी फेस मास्क पर अपने स्तर पर एक शोध करके उन डॉक्टरो की लिस्ट बनाई है, जिन्होंने इस कोरोना काल के समय अपनी खुद की जान की परवाह न करते हुए आम लोगो की जिंदगियो को बचाने में संघर्ष किया है। फिर राहुल ने उस 5.8 इंच के मिनी फेस मास्क पर अपनी मीनिएचर कला से उन सभी डॉक्टरो के ओरिजनल चित्र (पोर्ट्रेट) को बनाया है जो कि वास्तविक में डॉक्टर हैं। इसमें राहुल ने भारत एवं बाकी देश और दुनिया के डॉक्टरों के वास्तविक चित्रों को बड़ी बारीकियों से बनाया है।

राहुल ने बताया कि मैंने अपने मास्क पर उन डॉक्टरों के चित्रों को भी बनाया जो कि कोरोना से खुद ग्रस्त होकर दुनिया छोड़कर चले गए। जैसे ही कोरोना से ग्रस्त होकर चीन के एक डॉक्टर की मृत्यु हुई वो चित्र भी बनाया एवं यूरोपीय देशो में किन-किन डॉक्टरों की मृत्यु कोरोना से लड़ते हुए हुई। इसमें मध्यप्रदेश के डॉक्टरों को भी सम्मिलित करके बनाया गया। आप देखेंगे की इस 5.8 इंच के सबसे छोटे मिनी फेस मास्क पर राहुल ने 44 वास्तविक डॉक्टरों के चित्रों को बड़ी ही बारीकी से बनाया। इसमें प्रति डॉक्टर चित्र (पोर्ट्रेट) 1 से.मी. से 1.5 से.मी. का सूक्ष्म चित्र बने हुए दिखेंगे। और तो और आप मास्क के मध्य केंद में ध्यान देंगे तो आप को देवी दुर्गा का चित्र भी दिखेगा जिसमें देवी दुर्गा सिंह (शेर) पर सवार होकर एवं आधुनिक डॉक्टरों के औजार लिये डॉक्टरों के स्वरूप में कोरोना वायरस का अंत करती दिखाई देंगी। जैसे कि देवी-दुर्गा के हाथों में त्रिशूल की जगह इंजेक्शन दिखाई देगा। एक हाथ में पृथ्वी दिखेगी और एक हाथ में सेनेटाईजर लिए दिखाई देंगी। माँ दुर्गा स्वयं अपने मुंह पर मास्क को बांधे हुए दिखाई देंगी। चित्रकार राहुल ने मास्क पर 44 डॉक्टर के चित्र बनाये इसका कारण भी राहुल ने स्पष्ट करते हुए बताया कि “मैं नीमच जिले का निवासी एवं नीमच जिला मध्यप्रदेश के 44वें नम्बर पर आता है। मैंने डॉक्टरों के चित्र बनाकर अपने जिले को अपनी कला द्वारा अपने बनाये अनोखे मास्क पर प्रतिनिधित्व किया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *