अभा विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा बागपत की तरफ से विश्वकर्मा पूजा अवकाश के लिये दिया गया ज्ञापन

बागपत। अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के तत्वावधान में जिला अध्यक्ष रूपचन्द विश्वकर्मा के नेतृत्व में विश्वकर्मा समाज के लोगो ने 17 सितम्बर विश्वकर्मा पूजा दिवस को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने के लिए उत्तर प्रदेश के राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिला अधिकारी बागपत को दिया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि 17 सितम्बर को प्रतिवर्ष पूरे देश में भगवान विश्वकर्मा की पूजा मनाई जाती है। इस अवसर पर विश्वकर्मा समाज के सभी लोग, लोहे-लकड़ी का काम करने वाले सभी दुकानदार, कारीगर, सरकारी कार्यालयों, इंजीनियरिंग, उद्योगों एवं तकनीकी संस्थानों मे काम करने वाले सभी अधिकारी व कर्मचारीगण विश्वकर्मा पूजा मनाते हैं। विश्वकर्मा पूजा ही एक ऐसा पर्व है जिसे सभी जाति, धर्म व सम्प्रदाय में आस्था रखने वाले लोग मनाते हैं। यह पर्व सभी विश्वकर्मावंशियों की आस्था, श्रद्धा एवं स्वाभिमान से जुड़ा है।

जिलाध्यक्ष ने बताया कि पूर्व में समाजवादी पार्टी की सरकार द्वारा दो बार 17 सितम्बर भगवान विश्वकर्मा पूजा दिवस का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जा चुका है। जबकि वर्तमान भाजपा सरकार ने सार्वजनिक अवकाश निरस्त कर भगवान विश्वकर्मा व सम्पूर्ण समाज के सम्मान व स्वाभिमान पर चोट पहुंचाई है। हम सभी की मांग है कि प्रदेश के करोडों लोगों की भावनाओं का आदर करते हुए 17 सितम्बर भगवान विश्वकर्मा के पूजा दिवस पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जाय।
इस मौके पर रमेश विश्वकर्मा, ओमबीर विश्वकर्मा, प्रधान रविदत्त विश्वकर्मा, ओमप्रकाश विश्वकर्मा, रामकुमार विश्वकर्मा, रजनीश विश्वकर्मा, सतीश विश्वकर्मा, राजेन्द्र विश्वकर्मा, बीरसिंह विश्वकर्मा, परमजीत विश्वकर्मा, राहुल विश्वकर्मा, प्रशांत विश्वकर्मा, मनीष विश्वकर्मा, प्रवीण विश्वकर्मा, बलजोर विश्वकर्मा, एडवोकेट जॉनी विश्वकर्मा, देवेंद्र विश्वकर्मा, सुरेंद्र विश्वकर्मा, सतपाल विश्वकर्मा, पदम् विश्वकर्मा, सतीश विश्वकर्मा, मनीष विश्वकर्मा, विनोद विश्वकर्मा, रामफल विश्वकर्मा, देव विश्वकर्मा, राहुल विश्वकर्मा आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *