इंडिया एवं एशिया बुक आफ रिकार्ड में दर्ज हुआ मयंक विश्वकर्मा का नाम

कोरबा। पॉवरसिटी जमनीपाली में निवासरत मयंक विश्वकर्मा (35 वर्ष) ने पचास प्रतिशत डिसेबल श्रेणी के अंतर्गत लगातार छह मिनट अट्ठाइस सेकंड (6minutes 28seconds) तक हार्स स्टांस पोज़िशन में खड़े रहकर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड एवं एशिया बुक आफ रिकार्ड में अपना नाम दर्ज कराने में सफलता हासिल किया है।

लिटिल मोटिवेटर के नाम से विख्यात मात्र छत्तीस इंच ऊँचाई के मयंक की इस उपलब्धि से कोयलांचल ही नहीं पूरा छत्तीसगढ़ एवं विश्वकर्मा समाज गौरवान्वित हुआ है। शारीरिक अक्षमता के बावजूद बीए (अर्थशास्त्र) एचडीसीए पास मयंक बचपन से ही मेधावी रहे हैं। पढ़ाई के साथ ही उन्हें अभिनय, लेखन, संगीत, चित्रकारी एवं गायन में भी गहन रुचि है। उनका नाम लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज होने के लिए भी विचाराधीन है। वे भविष्य में फिल्म निर्माण एवं अभिनय के क्षेय में सक्रिय होना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *