डॉ0 बलदेव कुमार धीमान बने भारतीय चिकित्सा पद्धति सलाहकार परिषद के सदस्य

कुरुक्षेत्र। श्रीकृष्णा आयुष विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ0 बलदेव कुमार धीमान को भारत सरकार के आयुष मंत्रालय द्वारा भारतीय चिकित्सा पद्धति सलाहकार परिषद का सदस्य नियुक्त किया गया है। परिषद का सदस्य नियुक्त होने पर विश्वविद्यालय के स्टाफ ने कुलपति को बधाई दी। कुलपति डॉ0 बलदेव कुमार ने सभी कर्मचारियों का आभार प्रकट किया और खुशी जाहिर करते हुए कहा कि परिषद का मुख्य उद्देश्य आयुर्वेदिक शिक्षा को उच्च गुणवत्तापूर्ण बनाना है। पूरे देश में आयुर्वेदिक शिक्षा को लेकर तीन क्रम हैं अध्ययन- अध्यापन, क्लिनिकल प्रैक्टिस और अनुसंधान। इन तीनों विषयों पर परिषद कार्य करेगी। अध्ययन- अध्यापन कार्य में यदि कुछ खामिया है उसको दुरुस्त कर व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने का कार्य परिषद द्वारा किया जाएगा।

कोरोना महामारी में जब पूरे देश में लॉकडाउन लगा। देशवासी भयभीत और जीवन को लेकर आशंकित थे, ऐसे मुश्किल दौर में आयुर्वेद ने लोगों का विश्वास जीता है। आयुर्वेद चिकित्सा को कैसे और अधिक लोगों के लिए मित्रतापूर्ण बनाया जाए, इसके लिए परिषद प्रयास करेगी। ताकि आयुर्वेद के प्रति अभी जो लोगों में विश्वास बना है उसे बरकरार रखा जाए। इसके साथ ही शोध को लेकर आयुष विश्वविद्यालय में रिसर्च एंड इनोवेशन लैब स्थापित की गई है। जिसमें मॉडर्न साइंस के चौदह और आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति के 14 विभागों पर शोध कार्य किया जा रहा है।

4 thoughts on “डॉ0 बलदेव कुमार धीमान बने भारतीय चिकित्सा पद्धति सलाहकार परिषद के सदस्य

  1. आपको ओर आपके पूरे परिवार को हमारी ओर से बहोत बहोत बधाई और शुभकामनाएं

  2. अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा की ओर से हार्दिकशुभकामना।उज्वल भविष्य की मंगल कामनाओ के साथ मगन सुथार राष्ट्रीय राजनीतिक सलाहकार ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *