श्री विश्वकर्मा सुथार समाज सामूहिक विवाह समिति के समारोह में 13 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

बीकानेर। श्री विश्वकर्मा सुथार समाज सामूहिक विवाह समिति द्वारा बीकानेर में विश्वकर्मा समाज का 10वां सामूहिक विवाह आयोजित किया गया। विवाह समारोह में कुल 13 जोड़े परिणय सूत्र में बंधकर एक-दूजे के हो गये। अब तक कुल मिलाकर 111 जोड़े समिति के समारोह में परिणय सूत्र में बंध चुके हैं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बीकानेर मूल के मुम्बई में व्यवसायी बुलाकी चुयल व हनुमान जी लेखराव रहे।

समारोह में केन्द्रीय मन्त्री अर्जुन राम मेघवाल, उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्वमंत्री व पिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामआसरे विश्वकर्मा, बीकानेर नगर निगम की महापौर श्रीमती सुशीला कंवर, अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश बैराठी भाजपा के वरिष्ठ नेता राम गोपाल सुथार, बीजेपी ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष श्री भंवर जांगिड़ उपस्थित रहे।

पूर्वमंत्री रामआसरे विश्वकर्मा ने समारोह को सम्बोधित करते हुये कहा कि राजस्थान का विश्वकर्मा समाज जिस तरह सामूहिक विवाह में दस हजार की संख्या में आया है उसी तरह सामाजिक और राजनैतिक सम्मेलनो में भी आये। सामाजिक एकता बनाये बिना राजनैतिक ताकत नहीं मिल सकती। नौकरी रोजगार व विकास के लिये राजस्थान सरकार में विश्वकर्मा समाज का मन्त्री बने तभी मान सम्मान स्वाभिमान रहेगा।

अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश बैराठी ने अपने ओजस्वी भाषण में विश्वकर्मा समाज की किस्मत के बंद ताले खोलने के लिए सभी लोगों से एकजुट होने का आह्वान किया। कहा कि जब तक जांगिड़, सुथार, विश्वकर्मा, धीमान, पांचाल आदि अपने हक और हकूक की मांग नहीं करेंगे बल्कि अपना हक और हकूक जो वाजिब है लेकर नहीं रहेंगे तब तक विश्वकर्मा समाज का विकास किसी भी कीमत पर नहीं हो सकता l

सुथार समाज के लोगों से खचाखच भरे धरणीधर मैदान में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत की। समिति के अध्यक्ष हनुमान डोयल, संरक्षक कन्हैयालाल बरड़वा, वरिष्ठ समाजसेवी नवरतन धामू, शिवरतन कुलरिया सहित आयोजन समिति ने अतिथियों का स्वागत व अभिनंदन किया। मंच का संचालन प्रदीप माकड़ ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *