You are here

समाचार

लखनऊ (केशव विश्वकर्मा)। गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में बच्चों की हुई अकस्मात मौत से आहत विश्वकर्मा समाज के लोगों ने लखनऊ के हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर कैण्डिल जलाकर श्रद्धांजलि अर्पित किया। श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिये उपस्थित लोगों ने कहा कि यह हादसा बहुत ही दु:खद व अस​हनीय है तथा बड़ी मानवीय भूल है। सरकार, जिला प्रशासन तथा अस्पताल प्रशासन द्वारा दिए गये अलग-अलग बयानों ने मानवता को शर्मसार करते हुए झकझोर कर रख दिया है। जो बच्चे हम सभी के बीच से जुदा हो गए वह देश के भविष्य थे

नई दिल्ली। रियो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन से प्रोडुनोवा की पहचान बनी भारतीय जिम्नास्ट दीपा कर्माकर अब इस ‘वोल्ट आफ डैथ’ से आगे ‘हैंडस्प्रिंग 540’ के जरिए राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतना चाहती हैं। वह आस्ट्रेलिया में अगले साल होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में ही वापसी कर पाएंगी। रियो ओलंपिक में चौथे स्थान पर रही त्रिपुरा की जिम्नास्ट दीपा दाहिने घुटने में चोट के कारण इस बीच किसी स्पर्धा में हिस्सा नहीं ले सकी। अप्रैल में आपरेशन के बाद वह एशियाई चैम्पियनशिप से बाहर रहीं

वाराणसी। ऐतिहासिक अगस्त क्रान्ति दिवस के अवसर पर ऑल इण्डिया यूनाइटेड विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के तत्वावधान में 'विश्वकर्मा पूजा' अवकाश बहाली ​के लिये मशाल जुलूश निकाला गया। अपने पूर्व घोषित कार्यक्रमानुसार विश्वकर्मा समाज ने शाम को टाउनहाल स्थित गांधी प्रतिमा से एक विशाल मशाल जुलूस निकाला जो लोहटिया, कबीरचौरा होते हुए लहुराबीर चौराहे पर आजाद पार्क पहुंचकर सभा में परिवर्तित हो गया। इस जुलूस में बड़ी संख्या में समाज की महिलाएं और युवक शामिल थे जो संगठन की टोपियां लगाए हुए ह

मुम्बई। ‘पान सिंह तोमर’ ‘पीपली लाइव’, ‘स्लमडॉग मिलिनेयर’ जैसी सुपरहिट फिल्मों  में अपने अभिनय का जलवा दिखाने वाले दिग्गज अभिनेता सीताराम पंचाल ने गुरुवार की सुबह अंतिम सांस ली। वह लंबे समय से किडनी और कैंसर की बिमारी से ग्रसित थे। बिमारी के दौरान उनका वजन सिर्फ 30 किलो रह गया था। जानकारी के मुताबिक उन्हें सांस लेने में बहुत परेशानी हो रही थी। करीब चार साल से खतरनाक बीमारी से जूझ रहे पांचाल की आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नहीं थी कि वे मंहगा इलाज करा सके, इसलिए वे आयुर्वेदिक इला

कैथल (हरियाणा)। पाई के विक्रम पांचाल ने रूस की सबसे ऊंची चोटी माउण्ट इलबुरेश पर तिरंगा लहराकर पाई के साथ ही देश का भी नाम रोशन किया है। विक्रम के भाई प्रदीप पांचाल के अनुसार रूस की सबसे ऊंची चोटी पर तिरंगा फहराने में विक्रम पांचाल के साथ तीन सदस्यीय टीम थी जिसमें जम्मू कश्मीर से महिला सोमिय घौसा व राजस्थान से रतना हुड्डा शामिल थी। उनकी टीम ने रूस की सबसे ऊंची चोटी माउंट इलबुरेश के लिये 28 जुलाई को चढ़ाई शुरू की थी। वह एक अगस्त को सबसे ऊंची चोटी पर पहुंचे और तिरंगा लहराया। अ

अरविन्द विश्वकर्मा— अकसर देखने में आया है जब कोई व्यक्ति किसी संगठन का पदाधिकारी हो जाता है तो वह अपने को बड़ा समझने की भूल करने लगता है, जबकि उसमें यह समझ नहीं होती कि उसके संगठन का ही कोई वजूद नहीं है। यदि संगठन के पास नीति, क्रांतिकारी विचार और सिद्धांत होते तो वह संगठन किसी ख्याति प्राप्त व्यक्ति को सम्मानित करके स्वयं सम्मानित होने का अवसर न खोजता रहता। जबकि होना यह चाहिए कि सम्मान पाकर सम्मानित व्यक्ति स्वयं को गौरवान्वित समझे। 

जोधपुर। महिला गौरव पार्वती जांगिड़ हर साल भारत रक्षा पर्व (रक्षाबंधन) के अवसर पर अंतर्राष्ट्रीय बार्डर पर तैनात जवानों को राखी बांधकर उनकी दीर्घायु की मंगलकामना करती हैं। वह जवानों को राखी बांधने के लिये निडर होकर बार्डर पर जाती हैं। इस बार उन्होंने इसकी शुरूआत बीएसएफ के महानिदेशक के0के0 शर्मा को राखी बांधकर तथा समापन पंजाब फ्रंटियर मुख्यालय में आईजी मुकुल गोयल व डीआईजी के0एस0 कटियार को राखी बांधकर किया।

आजमगढ़। श्री विश्वकर्मा चैरिटेबल ट्रस्ट (रेड ब्रिगेड) आजमगढ़ द्वारा स्थापना दिवस बड़े धूमधाम से मनाया गया। ब्रिगेड के पदाधिकारियों ने स्थापना दिवस के मौके पर जिला चिकित्सालय आजमगढ़ में रक्तदान किया तत्पश्चात कुँवर सिंह उद्यान में वृक्षारोपण कार्यक्रम किया गया। इसी के साथ ही ब्रिगेड को और मजबूत करने का भी संकल्प लिया गया।

पटना। बिहार के एक युवा सत्य प्रकाश शर्मा की सफलता की कहानी अब पूरा देश सुनेगा। बीआइटी मेसरा में इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन से इंजीनियरिंग  कर रहे सत्य प्रकाश शर्मा ने ऐसा मोबाइल एप बनाया है जिसकी तारीफ खुद प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने की है।
केन्द्र के 'डिजिटल इण्डिया' अभियान से प्रभावित छात्र सत्य प्रकाश शर्मा ने एक मोबाइल एप बनाया है, जो सभी तरह के एकाउण्ट को एक जगह सुरक्षित रखता है। सभी को एक पासवर्ड से लिंक कर देता है।

दिल्ली। विश्वकर्मा विकास एवं सुरक्षा समिति के संस्थापक आचार्य आशुतोष विश्वकर्मा की अगुवाई में समिति के पदाधिकारियों ने एक बैठक कर सर्वसम्मति से होरीलाल शर्मा को राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया। होरीलाल शर्मा अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष व कार्यवाहक राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं (वर्तमान में महासभा में वह किस पद पर हैं इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है)। मूलत: उत्तर प्रदेश के बांदा निवासी श्री शर्मा दिल्ली के बड़े व्यवसायियों में गिने जाते हैं। 

Pages