You are here

विक्रम पांचाल ने रूस की सबसे ऊंची चोटी पर फहराया तिरंगा

कैथल (हरियाणा)। पाई के विक्रम पांचाल ने रूस की सबसे ऊंची चोटी माउण्ट इलबुरेश पर तिरंगा लहराकर पाई के साथ ही देश का भी नाम रोशन किया है। विक्रम के भाई प्रदीप पांचाल के अनुसार रूस की सबसे ऊंची चोटी पर तिरंगा फहराने में विक्रम पांचाल के साथ तीन सदस्यीय टीम थी जिसमें जम्मू कश्मीर से महिला सोमिय घौसा व राजस्थान से रतना हुड्डा शामिल थी। उनकी टीम ने रूस की सबसे ऊंची चोटी माउंट इलबुरेश के लिये 28 जुलाई को चढ़ाई शुरू की थी। वह एक अगस्त को सबसे ऊंची चोटी पर पहुंचे और तिरंगा लहराया। अब वह वहां से नीचे उतर आये हैं। अब उनकी टीम साउथ अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी तनजानिया में भारत देश का तिरंगा लहराना चाहती है।
प्रदीप ने यह भी बताया कि विक्रम की राह में आर्थिक समस्या बडा रोड़ा है। उनके पास जो राशि थी, वह समाप्त हो गई है। सरकार की तरफ से अभी तक कुछ भी सहायता नहीं मिली है, जबकि विक्रम के साथ गई दो साथियों को जम्मू कश्मीर व राजस्थान सरकार के द्वारा हर प्रकार से सहायता की जा रही है। सहायता मिलने से विक्रम के दोनों साथी तिरंगा लहराने के लिये आगे साउथ अफ्रीका जाएंगे और विक्रम को वापस भारत आना पड़ेगा। हालाकि विक्रम ने भी भारत सरकार व हरियाणा सरकार से सहायता की अपील किया है। यदि विक्रम को सरकार अथवा समाज के लोगों द्वारा आर्थिक सहयोग प्राप्त हो जाये तो वह भी साउथ अफ्रीका जा सकेंगे वर्ना वापस भारत लौटना पड़ेगा।