अखिल भारतीय बढ़ई महासभा ने मनाई पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह की पुण्यतिथि

लखनऊ। अखिल भारतीय बढ़ई महासभा के द्वारा पी0एच0डी0 चेंबर ऑफ़ कामर्स हाल में पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह की पुण्यतिथि मनाई गई। इस अवसर पर प्रभु ईशा मसीह की जयन्ती यानि क्रिसमस—डे भी मनाया गया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन अखिल भारतीय बढ़ई महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विश्राम शर्मा ने किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व सांसद रमाशंकर राजभर रहे। इस मौके पर राष्ट्रीय अध्यक्ष विश्राम शर्मा ने कहा कि किसी भी जाति का विकास सत्ता में भागीदारी के बिना संभव नहीं है। इस दौरान बढ़ई जाति के विकास के लिए बढ़ई विकास निगम की स्थापना करने और बढ़ई जाति को अनुसूचित जाति में सम्मलित करने की मांग की गई।

विशिष्ट अतिथि के रूप में ओमप्रकाश चोयल राजस्थान, रामेश्वर कुशवाहा, राजेन्द्र कुमार शर्मा वरिष्ट उपाध्यक्ष लखनऊ बार एसोसिएशन, श्याम सुन्दर विश्वकर्मा चेयरमैन नगर पंचायत सेवरहीं, भाजपा नेता राजेन्द्र कुमार शर्मा, रमापति विश्वकर्मा, सुशील शर्मा एड0 वरिष्ट कार्यकारिणी सदस्य, आर0पी0 शर्मा, गौरी शंकर शर्मा, विपिन शर्मा, श्रीराम शर्मा, कमलेश शर्मा, आलोक शर्मा, पुष्पा शर्मा, विनोद शर्मा, रामराज शर्मा, राधे शर्मा, सुरेश विश्वकर्मा थे। अध्यक्षता राम कैलाश शर्मा (अध्यक्ष ककुहांस विश्वकर्मा मंदिर) व संचालन मैयादीन पंचाल ने की।
कार्यक्रम में उपस्थित सभी गणमान्य लोगों ने ‘बढ़ई रत्न’ पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित किया।
इस अवसर पर शयाम विहारी विश्वकर्मा, राम खेलावन शर्मा, नगर अध्यक्ष पवन शर्मा, अनिरूद्ध शर्मा, नथुनी शर्मा, राधे शर्मा, परशुराम शर्मा, शोनु शर्मा, सूर्य देव शर्मा, अवधेश शर्मा, संजय शर्मा, शम्भू शर्मा, झोटिल शर्मा, मनोरंजन कुश्वाहा, समसुल हक, शिवमंगल शर्मा, वकील शर्मा, संदीप शर्मा सहित सैकड़ो लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *