भगवान विश्वकर्मा महिमा एवं ज्ञानी जैल सिंह की स्मृति का हुआ वर्णन

आजमगढ़। श्री विश्वकर्मा मंदिर (निकट रेलवे स्टेशन) आज़मगढ़ में भगवान विश्वकर्मा महिमा की चर्चा तथा पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह की स्मृतियों का विस्तार से वर्णन हुआ। संयोजक डॉ0 राजेश विश्वकर्मा अधिवक्ता इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा श्रम, चिकित्सा एवं विधि परामर्श शिविर का भी आयोजन कराया गया। इस अवसर पर पूर्वमन्त्री राम आसरे विश्वकर्मा, पूर्वमन्त्री डा0 कृष्ण मुरारी विश्वकर्मा, मुख्य संरक्षक इं0 रामनयन शर्मा, सदस्य लोक कला संस्थान उत्तर प्रदेश हीरालाल शर्मा, वरिष्ठ समाजसेवी दयानन्द विश्वकर्मा, नगर पंचायत चेयरमैन वीरेन्द्र विश्वकर्मा, प्रो0 पी0के0 विश्वकर्मा, सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता कैलाश विश्वकर्मा ने अपने विचार रखे।


कार्यक्रम में सभासद दिनेश विश्वकर्मा, श्यामा प्रसाद शर्मा, योग प्रशिक्षक सोहन लाल वर्मा, छविश्याम शर्मा, पतरुराम विश्वकर्मा, डा0 विकेन्द्र विश्वकर्मा, समाजसेवी बृजेश शर्मा, बड़े बाबू राधेश्याम विश्वकर्मा, विजय विश्वकर्मा मुम्बई, रजनीश विश्वकर्मा, अधिवक्ता विन्ध्याचल शर्मा, शशिकान्त विश्वकर्मा, बृजेश यादव, हरेन्द्र यादव, उमाशंकर शर्मा, आशीष विश्वकर्मा, रामधन विश्वकर्मा, संतोष शिल्पकार, बालचंद यादव, राममिलन विश्वकर्मा, शशिचंद विश्वकर्मा, डा0 घनश्याम विश्वकर्मा, डा0 शिवचरण गुप्ता, गणेश शर्मा, डा0 श्रीराम विश्वकर्मा, अनिल शर्मा, प्रेमनाथ, जगदीश, सुभास, रामजी, संजय, रामलगन, रामआसरे विश्वकर्मा, श्यामलाल, रिंकज विश्वकर्मा, अरुण विश्वकर्मा, उमेश विश्वकर्मा, बेचू विश्वकर्मा, पिंटू विश्वकर्मा, नंदकिशोर विश्वकर्मा सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित रहे।
प्रसिद्ध गायक कलाकार इंद्रजीत विश्वकर्मा तथा कवि, गीतकार कमलेश आज़मी ने मनमोहक प्रस्तुति दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *