पिछड़ों का अपमान कर रही है भाजपा सरकार— रामआसरे विश्वकर्मा

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के पूर्व मन्त्री राम आसरे विश्वकर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार ने विश्वकर्मा समाज का अपमान किया है और झूठ बोलकर समाज को गुमराह किया है। श्री विश्वकर्मा विश्वकर्मा मन्दिर मकबूलगंज, लखनऊ में अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा की प्रदेश कमेटी और जिला अध्यक्षों की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में मुख्यमन्त्री अखिलेश यादव ने विश्वकर्मा पूजा का सार्वजनिक अवकाश घोषित करके विश्वकर्मा समाज की पहचान बनाई थी और पूरे देश में विश्वकर्मा समाज का सम्मान बढ़ाया था। भाजपा सरकार में मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ ने 17 सितम्बर विश्वकर्मा पूजा के सार्वजनिक अवकाश को निरस्त करके विश्वकर्मा समाज की पहचान को मिटाने का कार्य कर रही है। समाजवादी पार्टी सरकार ने विश्वकर्मा समाज के हित में कई कार्य किये। मुख्य रूप से विश्वकर्मा समाज को कुटीर उद्योग, वर्कशॉप के लिए ग्रामसभा की जमीन का पट्टा, इण्टर पास लोहार और बढ़ई के लड़कों को आईटीआई का प्रमाण पत्र जारी करने का शासनादेश जारी किया गया था। परन्तु भाजपा सरकार ने उसे निरस्त कर दिया। पिछड़े वर्गों के लिए छात्रवृत्ति, शादी अनुदान, पेंशन और आवास जैसी योजनाएं सपा सरकार में लागू की गई थी जिसका फायदा विश्वकर्मा समाज को सबसे ज्यादा मिला था। भाजपा सरकार में इन योजनाओं का लाभ नहीं दिया जा रहा है।
पूर्वमन्त्री ने कहा कि भाजपा सरकार में विश्वकर्मा समाज के ऊपर उत्पीड़न और अत्याचार बढ़ा है। हत्या, बलात्कार, जमीनों पर कब्जा जैसी घटनाएं सबसे ज्यादा पिछड़ी जातियों के लोगों पर हो रहे है। उन्होंने विश्वकर्मा समाज से अपमान, उत्पीड़न और अत्याचार से निपटने के लिए भाजपा के खिलाफ एकजुट होने तथा समाजवादी पार्टी के पक्ष में लामबंद होने की अपील की।
श्री विश्वकर्मा ने बताया कि इस वर्ष 17 सितम्बर को भगवान विश्वकर्मा की पूजा एवं जयन्ती का कार्यक्रम समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय स्थित लोहिया सभागार में मनाया जायेगा, जिसके मुख्य अतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव होंगे। इसकी तैयारी बैठक में सभी जिलाध्यक्षों से बसों के माध्यम से हजारों विश्वकर्मा समाज के लोगों लखनऊ में बुलाने की अपील सभी पदाधिकारियों से की है।
बैठक की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष अच्छेलाल विश्वकर्मा तथा संचालन राष्ट्रीय सचिव राजेश विश्वकर्मा ने किया।
बैठक को महासचिव राकेश विश्वकर्मा, इं0 विजेश शर्मा, सूरजबली विश्वकर्मा, जीतेन्द्र वर्मा, आशुतोष विश्वकर्मा, हरेन्द्र विश्वकर्मा, राम भजन शर्मा, रामपाल विश्वकर्मा, महेन्द्र विश्वकर्मा आदि लोगों ने सम्बोधित किया।

—शिवप्रकाश विश्वकर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: