30 व 31 जुलाई को लोहार विकास मंच बिहार दिल्ली में करेगा सत्याग्रह

दिल्ली। लोहार विकास मंच, बिहार द्वारा 30 व 31 जुलाई को दिल्ली में संसद मार्ग पर सत्याग्रह का आयोजन किया गया है। यह आयोजन केन्द्रीय संस्थानों में एसटी का लाभ न मिलने के बावत किया जा रहा है।
ज्ञातव्य है कि बिहार सरकार ने लोहार को एसटी की श्रेणी में रखा है और उसका लाभ भी मिल रहा है परन्तु केन्द्र सरकार ने अभी तक नोटिफिकेशन नहीं किया है जिसके कारण केन्द्रीय संस्थानों में आरक्षण की सुविधाओं से वंचित होना पड़ रहा है।
लोहार विकास मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज किशोर शर्मा ने कहा एक्ट 23/2016 जो प्रचलन में नहीं रहने वाले ग्यारह अधिनियम को भारत सरकार ने निरसन व संसोधन एक्ट के तहत रद्द कर दिया है। लेकिन आरक्षण विरोधियों के द्वारा ग्यारह एक्ट का स्पष्ट राजपत्र और नोटिफिकेशन रोकवा दिया गया है ताकि जनजातियों को लाभ न मिल सके। इसके कारण बिहार के आदिवासी वर्ग को भारी क्षति उठानी पड़ रही है।
राष्ट्रीय अध्यक्ष राज किशोर शर्मा ने बताया की जिस तरह मरणोपरांत अंग काम नहीं करता है, उसी प्रकार बेकार की कानून रद्द होने पर उसमें लिखी बातें समाप्त हो जाती है। लेकिन बिहार के लोहारों के साथ ऐसा नहीं हो रहा है। कानून मंत्रालय एक्ट 48/2006 यानी लोहारा रद्द करने का पुष्टि करता है लेकिन बिहार के राजनीतिकों के दबाव में ग्यारह एक्ट का नोटिफिकेशन नहीं हुआ, जो राष्ट्रपति के नोटिफिकेशन का उल्लंघन एवं संविधान का अपमान है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*