भारत भ्रमण पर निकले दिव्यांग अमित जांगड़ा का हुआ भव्य स्वागत

जयपुर। भारत भ्रमण (कश्मीर से कन्याकुमारी) पर निकले पानीपत निवासी जन्मजात दिव्यांग अमित जांगड़ा का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। 22 मई को जयपुर के विद्याधर नगर, सेक्टर 4 स्थित सभा भवन में आयोजित स्वागत समारोह में अ0भा0 जांगिड़ ब्राह्मण महासभा के पदाधिकारियों ने अमित जांगड़ा का स्वागत किया। भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अजीत मांडण ने अमित जांगड़ा का साफा, शाल और प्रशस्ति पत्र प्रदान कर स्वागत किया।


अमित जांगड़ा ने बताया कि वह 25 अप्रैल 2018 को पानीपत से चलकर जम्मू होते हुए पूरे भारत का भ्रमण कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिव्यांग कुछ कर नहीं सकते, इस मिथक को तोड़ना चाहता हूं और अपने दिव्यांग भाईयों को कहना चाहूंगा कि हम अगर चाहें तो परिस्थितियों को बदल सकते हैं। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान उनको अपनेपन का एहसास हुआ और ऐसा लगा पूरा भारत मेरा एक घर है।
अजीत माँडण ने कहा की कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती, इस बात को अमित के जज्बे ने दिखा दिया है। उन्होंने परिस्थितियों को कोसने वालों को अमित जांगड़ा से सीख लेने की भी सलाह दी।

25 अप्रैल 2018 को शुरू की थी यात्रा—


पानीपत। 25 अप्रैल को जब अमित जांगड़ा पानीपत से अपनी यात्रा आरम्भ कर रहे थे तो कई संस्थाओं ने उनका उत्साहवर्धन किया। यात्रा आरम्भ करने से पूर्व प्रेसवार्ता के दौरान अन्तरराष्ट्रीय संस्था के चेयरमैन प्रीतपाल सिंह पन्नू ने अमित जांगड़ा का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि, दिव्यांग होना कोई अभिशाप नहीं है, बल्कि यदि समय पर इंसान को हौसला एवं थोड़ा सा सहारा मिले तो़ दिव्यांग व्यक्ति ऊंचाइयां छू सकता है। उन्होंने बताया कि अमित जांगड़ा की यह यात्रा नीफा द्वारा प्रायोजित की जा रही है। नीफा पिछले 20 वर्षों से सामाजिक क्षेत्र में कार्य कर रही है एवं समय-समय पर दिव्यांग जनों का हौसला बढ़ाने हेतु भी कार्य करती आ रही है। अमित जांगड़ा द्वारा की जा रही यह यात्रा दिव्यांगों का हौसला बढ़ाएगी एवं उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेंगी।
इस दौरान नीफा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष गुरमीत सचदेवा ने अमित जांगड़ा का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि, यह अपने आप में बहुत अद्भुत यात्रा रहेगी। जहां एक सामान्य व्यक्ति एक दिन में सौ से डेढ़ सौ किलोमीटर तक की यात्रा बहुत मुश्किल से कर पाता है वहीं इस झुलसा देने वाली गर्मी में अमित जांगड़ा प्रत्येक दिन 300 से 400 किलोमीटर तक की यात्रा करेंगे। उनकी यात्रा का एकमात्र उद्देश्य दिव्यांग जनों में हौसला जगा कर उनको एक नई मंजिल दिखाने का है। सचदेवा जी ने बताया कि यह यात्रा देश के 16 से अधिक राज्यों से होकर गुजरेगी। यात्रा के दौरान 8000 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। यात्रा को पूरा करने में लगभग 24 दिन का समय लगेगा उसके बाद श्री जांगड़ा का दिल्ली में भव्य स्वागत किया जाएगा। इस दौरान पानीपत जिला अध्यक्ष प्रवीण वर्मा, करनाल निफा प्रधान जितेन्द्र नरवीर, राम सिंह जांगड़ा, मानव, अंकित, अमित, मोहित, राघव, तान्या, धर्मवीर जांगड़ा आदि मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*