कदौरा में जय श्री राम के उद्घोष के साथ निकली भगवान श्री राम की शोभयात्रा

जालौन। रामनवमी पर्व पर प्रतिवर्ष की तरह कदौरा नगर में रीति रिवाज अनुसार उपासक भक्तों के साथ नगर दुर्गा कमेटी द्वारा भगवान श्री राम की भव्य शोभायात्रा निकाली गयी। वहीं नगर की महिलायें भी जवारों के साथ जुलूस में शामिल रहीं। सुरक्षा व शांति व्यवस्था को चौकन्ना रखते हुये क्षेत्राधिकारी सुबोध गौतम व कदौरा निरीक्षक अशोक, एसओ आनन्द सिंह उपाध्याय सहित पुलिस बल मौजूद रहा। साथ ही हजारों की तादात में भक्तों के बीच कुछ भक्तो द्वारा सांग छिदवाकर मातारानी को खुश किया गया। चहुंओर जय श्री राम के नारे से नगर गूंजता रहा।
ज्ञातव्य हो कि कदौरा नगर में हर वर्ष की भांति मां दुर्गा कमेटी में कार्यक्रम संयोजक शीनू गुप्ता के नेतृत्व में भगवान श्री राम की शोभयात्रा निकाली गयी, जिसमें जवारों के साथ महिलाओं का हुजूम साथ रहा। सर्वप्रथम कदौरा सब्जी मण्डी से शोभयात्रा प्रारम्भ हुई जिसमें भगवान राम, शिव जी, हनुमान जी सहित सभी देवों के रथ में सुसज्जित कलाकरो की झांकी सजाकर निकाली गयी। बाद में प्रशाशनिक अधिकारियों सीओ सुबोध गौतम व कदौरा निरीक्षक अशोक उपाध्याय सहित पुलिस बल की मौजूदगी में इलाहबाद बैंक के समीप हजारों की तादात में भक्तो द्वारा सांग छिदवाकर माता रानी की अर्चना की गयी। वहीं एक तरफ कमेटी के श्रद्धालुओं द्वारा भगवान के जयकारो में लीन दिखाई पड़े पास में झांकियो के दर्शन में भी सैलाब उमड़ता दिखाई पड़ा। पश्चात बैंक रास्ते होते हुए शोभयात्रा डाकघर के रास्ते होते हुए पुराने थाने से बस स्टैण्ड फिर मां दुर्गा मन्दिर पहुंची। शोभयात्रा में घोड़े, डीजे साज—बाज के साथ यात्रा निकाली गयी। शोभयात्रा में हिन्दू—मुस्लिम एकता की मिशाल कायम रही। नगर में जगह—जगह शरबत व प्रसाद के टेबल लगाकर श्रद्धालु लोगों के प्रति सेवा भाव रखा गया। एक्टिव वेलफेयर सोसायटी की ओर से बच्चन तिवारी, इरफ़ान अली, अफजाल अहमद(मोनू), बिट्टू खान, मजीद खान सहित बउवा गुप्ता व राजू यादव आदि लोगों द्वारा श्रद्धालुओं को शर्बत पिलाया गया। वहीं डीजे की धुन पर भक्त जयकारे लगाकर झूमते दिखाई पड़े।
शोभयात्रा में ब्लाक प्रमुख विजय निस्वा व कमेटी संयोजक शीनू गुप्ता, पवन गुप्ता, जगतनारायण विश्वकर्मा, हरि गुप्ता, बालक मिस्त्री, लालता अहिरवार, रामौतार दोहरे, राजा, गुड्डू विश्वकर्मा आदि लोग सक्रिय भूमिका में रहे।
रिपोर्ट- राजवीर विश्वकर्मा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*