मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ से मिला विश्वकर्मा समाज का प्रतिनिधि मण्डल

लखनऊ। पूर्व मन्त्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता डा0 कृष्णमुरारी विश्वकर्मा के नेतृत्व में विश्वकर्मा समाज का एक प्रतिनिधि मण्डल उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ से मिला। प्रतिनिधि मण्डल ने समाज से सम्बन्धित विभिन्न मांगो से परिपूर्ण एक ज्ञापन भी मुख्यमन्त्री को सौंपा। पूर्व निर्धारित समय के अनुसार डा0 कृष्णमुरारी विश्वकर्मा प्रतिनिधि मण्डल के साथ लालबहादुर शास्त्री भवन (एनेक्सी) पहुंचे। वहां करीब 25 मिनट की मुलाकात में समाज से सम्बन्धित कई मुद्दों पर मुख्यमन्त्री के साथ चर्चा किया।
प्रतिनिधि मण्डल में शामिल युवा नेता अमित विश्वकर्मा ने बताया कि 17 सितम्बर भगवान विश्वकर्मा पूजा दिवस के अवसर पर सार्वजनिक अवकाश की बहाली व विश्वकर्मा वंशीय समाज के लिये आरा मशीनों को लाईसेंस से मुक्त करने की मांग प्रमुख थी। इसके अलावा विश्वकर्मा समाज के सामाजिक, आर्थिक व शैक्षिक विषयों पर भी चर्चा हुई। अमित विश्वकर्मा ने विश्वकर्मा समाज को सरकार में भागीदारी की भी बात मुख्यमन्त्री के समक्ष रखी। उन्होंने बताया कि मुख्यमन्त्री ने सभी मांगो पर गम्भीरता से विचार करने का आश्वासन दिया है।
प्रतिनिधि मण्डल में डा0 कृष्णमुरारी विश्वकर्मा के साथ अमित विश्वकर्मा, रमाकान्त विश्वकर्मा, दीपक झा, मनोज कुमार शर्मा, एम0एल0 विश्वकर्मा एडवोकेट, सन्तोष शर्मा सम्मिलित थे।

8 thoughts on “मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ से मिला विश्वकर्मा समाज का प्रतिनिधि मण्डल

  1. किसी भी सरकार ने विश्वकर्मा बिरादरी के लिए कुछ भी नही किया । केवल आश्वासन मिलता रहा

  2. Achi soch ke sath prayas Sarahniy hai hmm ap logo ke sath hai hme is karya ko karne me khushi hogi..
    Jai vishwakarma ji…

  3. बहुत बहुत शुभकामनाएं!
    विश्वकर्मा समाज के लिए एक शानदार आगाज !
    !! ॐ श्री विश्वकर्मणे नमो नमः ॐ !!

  4. आश्वासन का पकौड़ा अच्छा दिया भगवान विश्वकर्मा की महिमा को स्वीकार ना करना और महापुरुष बनाए रखना, समझ से परे है वह भी हिंदूवादी पार्टी के जिम्मेदार और योगी जी के द्वारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: