श्री विश्वकर्मा धाम सणोसरा में मनाई गई विश्वकर्मा जयन्ती

राजकोट। भगवान विश्वकर्मा जयन्ती के अवसर पर श्री विश्वकर्मा धाम, सणोसरा में त्रिविध कार्यक्रम आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा द्वारा आयोजित कियार गया। त्रिविध कार्यक्रम के अन्तर्गत श्री विश्वकर्मा जयंती महोत्सव, अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक और लग्नोत्सुक युवा प्रसंदगी सम्मेलन सम्पन्न हुआ।


गुजरात के राजकोट में वांकानेर हाइवे स्थित सणोसरा स्थित निर्माणाधीन श्री विश्वकर्मा धाम में अखिल भारतीय भारतीय विश्वकर्मा महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई जिसमें पूरे देश से कार्यकारिणी के पदाधिकारी व समाजजन उपस्थित हुये। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अध्यक्ष छेदीलाल शर्मा विश्वकर्मा रहे। कार्यक्रम की शुरुआत छेदीलाल शर्मा विश्वकर्मा, शैलेशभाई सिद्धपुरा, किशोरभाई राठौड़, दिनेशभाई शर्मा, कल्पेशभाई सिद्धपुरा के कर कमलों से दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ।
अपने उद्बोधन में छेदीलाल शर्मा ने कहा कि विश्वकर्मा समाज की आबादी 15 करोड़ से ज्यादा होने के बावजूद एक भी सांसद नहीं है, यह दुर्भाग्यपूर्ण बात है। आज राजकीय पक्ष अपने समाज का उपयोग करते हैं, अब हमारे विश्वकर्मा समाज को जागृत होना जरूरी है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा पिछड़े वर्गों का वर्गीकरण हो रहा है। उन्होंने समग्र देश के विश्वकर्मा समाज को अति पिछड़ा वर्ग में शामिल करने के लिये भारत सरकार से अनुरोध किया है। दिल्ली में अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा द्वारा समाज का भवन बनाने के लिए समाज के लोगों को आगे आने का आवाहन किया। उन्होंने समाज को संगठित होने के साथ ही सभी को विश्वकर्मा जयन्ती की शुभकामनाएं दी।
अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा के राष्ट्रीय सचिव किशोरभाई राठौड़ ने बताया कि पूरे देश में विश्वकर्मा समाज को नजर अन्दाज किया जा रहा है। उन्होंने केन्द्र सरकार के साथ ही राज्य सरकार का भी ध्यान आकर्षित कराया। कहा कि गुजरात में विश्वकर्मा समाज के साथ अन्याय हो रहा है। गुजरात सरकार विश्वकर्मा निगम बनाये और विश्वकर्मा समाज के लिए आर्थिक पैकेज जारी करे। उन्होने कहा कि अपनी मांगो को लेकर महासभा जल्द ही पूरे गुजरात प्रदेश में जागरण अभियान चलायेगी। उन्होंने विश्वकर्मा समाज को अपने उत्थान के लिये कंधे से कंधा मिलाकर आगे आने को आवाहन किया।
श्री विश्वकर्मा धाम, सणोसरा के प्रणेता शैलेशभाई सिद्धपुरा ने स्वागत भाषण में कि यह विश्वकर्मा धाम का आने वाले दिनों में देश और विश्व में सर्वोच्च होगा। उन्होंने सभी अतिथियों का स्वागत किया।
समारोह में पूरे देश से पधारे अतिथियों में मनोरंजन मोहराना, रामलाल विश्वकर्मा, किशोरभाई राठौड़, ऊमेदभाई मकवाणा, राजवा जाडेजा, मयूरभाई परमार, गीताबेन सोलंकी, अशोकभाई पित्रोडा, राजूभाई सिद्धपुरा, मंजुलाबेन डोड़िया, भाग्येश वाला, अरविंदभाई सिद्धपुरा, भानूबेन पित्रोडा प्रमुख थे। कार्यक्रम का संचालन उमेदभाई मकवाना ने किया।
रिपोर्ट— भरत सुथार अहमदाबाद, मो0— 9825070867 ई—मेल— [email protected]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*