पूरी दुनिया में पूज्यमान हैं भगवान विश्वकर्मा— डा0 कृष्णमुरारी

बाराबंकी। पूरी दुनिया में यदि किसी देवता की पूजा होती है तो वह भगवान किश्वकर्मा हैं। भगवान विश्वकर्मा की पूजा सभी जाति व धर्म के लोग करते हैं। ‘विश्वकर्मा’ शब्द पूरी दुनिया में विद्यमान है। विश्वकर्मा समाज सभी क्षेत्रों में अग्रणी है, यदि पीछे है तो सिर्फ राजनीति में। जबकि राजनीति ही वर्तमान समय में विकास की मुख्य कड़ी है। उपरोक्त बातें पूर्वमन्त्री डा0 कृष्णमुरारी विश्वकर्मा ने श्री विश्वकर्मा महासभा, बाराबंकी द्वारा नगर पालिका सभागार में आयोजित सामाजिक समरसता गोष्ठी एवं खिचड़ी भोज समारोह को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुये कहा।
श्री विश्वकर्मा ने कहा कि मानव जीवन में विश्वकर्मा समाज का योगदान महत्वपूर्ण है। बिना विश्वकर्मा समाज के मानव जीवन की कल्पना ही नहीं की जा सकती। दुनिया में जितने भी अद्भुत निर्माण कार्य हुये हैं सब भगवान विश्वकर्मा की देन है। विश्वकर्मा समाज की कला की बदौलत भारत, आधुनिक भारत की दिशा में अग्रसर है।
राजनीति की चर्चा करते हुये पूर्वमन्त्री ने कहा कि विश्वकर्मा समाज को राजनीति में कदम बढ़ाना चाहिये। बिना राजनीति के किसी भी समाज का विकास सम्भव नहीं है। जिस समाज ने राजनीति में अपनी पकड़ बना ली, उनका विकास अपने आप हो गया। जब अपने लोग विधानसभा, विधान परिषद, लोकसभा, राज्यसभा में प्रतिनिधित्व करेंगे तो विश्वकर्मा समाज के विकास की भी बात होगी। पूरे प्रदेश से सदन में विश्वकर्मा समाज का एक भी प्रतिनिधि नहीं है जो दुर्भाग्यपूर्ण है। यहां तक कि बीते विधानसभा चुनाव में भाजपा को छोड़कर किसी अन्य राजनीतिक दल ने विश्वकर्मा समाज को टिकट नहीं दिया। सिर्फ भाजपा ने उन्हें टिकट देकर दीदारगंज विधानसभा से चुनाव लड़ाया, दुर्भाग्य से वह जीत नहीं सके। विश्वकर्मा समाज को भाजपा से बड़ी उम्मीद है, इसलिये विश्वकर्मा समाज भी भाजपा के साथ पूरी निष्ठा के साथ खड़ा है।
समारोह को विधायक सुरेश यादव, पूर्व सांसद कमला प्रसाद रावत, पूर्व विधायक राम मगन रावत, पूर्व विधायक राम गोपाल रावत, पूर्व एमएलसी हरगोविन्द सिंह, पूर्व एमएलसी अरविन्द यादव, बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा एडवोकेट (लखनऊ), भाजपा नेता रामधनी विश्वकर्मा आदि लोगों ने सम्बोधित किया।
इस अवसर पर ओमकार विश्वकर्मा, मनोज कुमार शर्मा (लखनऊ), रामानन्द विश्वकर्मा, देवनारायण विश्वकर्मा, डी0एन0 विश्वकर्मा, प्रमोद विश्वकर्मा, दिनेश कुमार विश्वकर्मा, दुर्गा प्रसाद, राम आशीष विश्वकर्मा आदि लोग उपस्थित रहे।
समारोह की अध्यक्षता श्री विश्वकर्मा महासभा, बाराबंकी की अध्यक्ष राजवती विश्वकर्मा तथा संचालन मुरारीलाल विश्वकर्मा ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: